जल्द ही बनारस में पांच रुपये में मिलेगा भोजन

सीएम योगी का ड्रीम प्रोजेक्ट है कि प्रदेश गरीबों को पांच रुपये में भोजन और तीन रुपये में नास्ता मिले. सीएम का यह सपना जल्द ही बनारस में मूर्त रुप लेने वाला है. इसके लिए नगर निगम ने काम करना शुरू कर दिया है. इस बाबत तीन दिन पहले शासन की ओर से नगर निगम को गाइड लाइन जारी की गयी है. इतनी बड़ी प्लानिंग को एक साथ शहर में मूर्तरुप देना संभव नहीं है, इसलिए पहले चरण में क्ख् वॉर्डो को केंद्रीत कर तीन भोजनालय खोले जाऐंगे. सबकुछ ठीक रहा तो जल्द ही शहर के छात्र, गरीब और मजदूरों को पांच रुपये में भोजन और तीन रुपये में नास्ता मिलने लगेगा. नगर आयुक्त डॉ. श्रीहरि प्रताप शाही ने बताया कि शासन के आदेशानुसार प्रत्येक चार वार्ड को केंद्रित कर एक स्थान पर अन्नपूर्णा रसोई को खोलना है. नगर में 90 वार्ड हैं. इसको केंद्रित कर यहां कुल ख्फ् अन्नपूर्णा रसोई खोली जाएगी. लेकिन एक साथ इतने बड़े प्रोजेक्ट पर काम करना संभव नहीं होगा. इसलिए चरणबद्ध योजना को आकार देने की रणनीति बन रही है. चार वार्डो को इस तरह से चुना जाएगा जिससे रसोई की सार्थकता साबित हो सके. इसे देखते हुए लंका, कबीरचौरा व कचहरी क्षेत्र को ध्यान में रखते हुए पहले चरण में चार- चार वार्डो का चयन कर एक- एक अन्नपूर्णा रसोई खोली जाएगी. नगर आयुक्त ने बताया कि अन्नपूर्णा रसोई के लिए उन स्थानों का चयन किया जाएगा जहां पर रैन बसेरा है. अन्नपूर्णा रसोई चलाने के लिए निजी संस्थाओं का सहयोग लिया जाएगा. नगर में कुछ संस्थाएं सस्ती रसोई का संचालन करती हैं. इसमें रवींद्रपुरी में जालान तो श्रीकाशी विश्वनाथ परिक्षेत्र में अन्न क्षेत्र का संचालन होता है. ऐसी संस्थाओं के सहयोग से अन्नपूर्णा रसोई संचालित की जाएगी. रसोई खोलने का काम बहुत जल्द किया जाएगा.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *