बीएचयू कांड : चीफ प्रॉक्टर ने दिया इस्तीफा, कुलपति के अधिकार होंगे सीज

बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी में अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहीं छात्राओं पर लाठीचार्ज मामले में चीफ प्रॉक्टर ओएन सिंह ने इस्तीफा दे दिया है. वहीं कहा जा रहा है कि कुलपति गिरीश चंद्र त्रिपाठी के सभी अधिकार बुधवार शाम 5 बजे तक सीज हो जाएंगे. चीफ प्रॉक्टर ओएन सिंह ने कैंपस में हुए बवाल की जिम्मेदारी लेते हुए अपना इस्तीफा कुलपति को सौंप दिया. कुलपति ने उनका इस्तीफा स्वीकार भी कर लिया है. वहीं कुलपति दो महीने में रिटायर होने वाले हैं, लिहाजा उनके सभी अधिकार सीज कर लिए जाएंगे. इसके अलावा हॉस्टल वार्डन पर भी गाज गिरना तय है. हॉस्टल वार्डन ने छात्रा की शिकायत पर कहा था कि देर रात तक बाहर घूमने पर छेड़छाड़ तो होगी ही. छुट्टी पर भेजे जाने के सवाल पर कुलपति ने कहा कि अगर ऐसा होता है तो यह अपमान है. इस स्थिति में वह इस्तीफा देना पसंद करेंगे. इस बीच मंगलवार को दिल्ली में बीएचयू एग्जीक्यूटिव बोर्ड की मीटिंग में भी यह मुद्दा उठा. इस बैठक में छात्राओं की सुरक्षा को लेकर और कदम उठाने का फैसला लिया गया. बता दें कि वाराणसी कमिश्नर नितिन गोकर्ण ने अपनी प्रारंभिक जांच रिपोर्ट में पूरे मामले में बीएचयू प्रशासन की संवेदनहीनता और लापरवाही माना है. दूसरी तरफ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी पूरे मामले में सख्त नजर आ रहे हैं. मंगलवार शाम उन्होंने अपने बयान में कहा कि पूरे प्रकरण में मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दे दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि प्रशासन को भी सख्त हिदयात दी गई है कि किसी भी छात्र को परेशान न किया जाए. मुख्यमंत्री ने कहा, जो भी असामाजिक तत्व इसमें शामिल थे उनके खिलाफ सख्ती से निपटा जाए. सीएम योगी ने कहा कि पूरे मामले की जांच रिपोर्ट उनकी सरकार केंद्र को भी सौंपने जा रही है.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *